बारापाल खजूरी मे माता जी की मूर्ति खंडित करने पर ग्रामीणों मे रोष

( 1494 बार पढ़ी गयी)
Published on : 22 Apr, 24 16:04

अभियुक्तो की गिरफ्तारी की मांग

बारापाल खजूरी मे माता जी की मूर्ति खंडित करने पर ग्रामीणों मे रोष

उदयपुर, उदयपुर के खजूरी और बारापाल के बीच सदियों पुर्व स्थापित धराल माता जी की मूर्ति को दिनाँक 19 अप्रेल 2024 रात्रि को बंद मंदिर में घुसकर कुछ असामाजिक और धर्म विरोधी लोगों ने खंडित कर मूल स्थान से हटाकर दूर फेंक दी जिस पर ग्रामवासियो एवम आस पास के गाँवों के लोगों मे गहरा रोष व्याप्त हो गया।

 

उक्त घटना पर ग्राम वासियों द्वारा एकत्रित होकर दिनांक 19 अप्रैल 2024 को थाना गोवर्धन विलास उदयपुर मे लिखित रिपोर्ट भी दर्ज कराई गयी, लेकिन आज तक इस प्रकरण में किसी भी अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं की गई, ना ही कोई ठोस कार्रवाई अमल में लाई गई है। जिस पर दिनाँक 21 अप्रेल रविवार को ग्राम वासी एवम आस पास के गाँवों के सेकड़ो लोग एवम विभिन्न संगठनो के जन प्रतिनिधि जिला कलेक्ट्री उदयपुर मे एकत्रित हुए और दोषी अभियुक्तो की 48 घंटे मे गिरफ्तारी के लिए जिला कलेक्टर एवम पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन मे मांग की गई कि दोषी सभी अभियुक्तों की 48 घंटे मे गिरफ्तारी की जाए,आए दिन आसपास के क्षेत्र में चोरियां  आदि आपराधिक गतिविधियां बाहर के लोगो द्वारा की जा रही है, जिस पर ठोस कार्रवाई की जाएं तथा बाहरी लोगों की जांच कर पाबंदी लगाई जाए एवम वर्तमान समय में उक्त पंचायत में निवासरत ग्रामीण बंधु सभी अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, उनके सुरक्षा के लिए उचित ठोस व्यवस्था हो। 

इस अवसर पर जिला कलेक्ट्रेट मे उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा, हिन्दू जागरण मंच प्रांत संयोजक रविकांत त्रिपाठी, बारापाल एवं खजुरी ग्राम पंचायत से कालुलाल,लक्ष्मण, नाकु, तेजा, हुरजी, मांगीलाल, रमेश, शिवजी, वेला जी, हरीश, राकेश, बाबूलाल, मोहन, गौतम, लालूराम, प्रकाश, राजेश मीणा, अरुण कटारा, कालुलाल, सोमा, बाबूलाल, मावा, प्रभुलाल, रामलाल, नाथू कटारा, नारायण, संदीप, आशीष, कांतिलाल, सुरेश, मोहन, उँकार सहित बजरंग सेना,गरबा एवं गणपति समारोह समिति,सज्जन नगर नवयुवक मंडल सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.