GMCH STORIES

 वन मैन आर्मी..........रचना शर्मा, सहा.निदेशक  (जनसंपर्क) कोटा

( Read 2151 Times)

06 Dec 23
Share |
Print This Page
 वन मैन आर्मी..........रचना शर्मा, सहा.निदेशक  (जनसंपर्क) कोटा

विधान सभा चुनाव 2023 में कोटा जैसे बड़े जिले में 6 विधानसभा के चुनावों में सरकारी प्रवक्ता के बतौर प्रचार प्रसार कार्य में रचना शर्मा सहा.निदेशक  सूचना एवं जन संपर्क विभाग कोटा ने वन मैन आर्मी के रूप में श्लांघनीय कार्य कर एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। मैंने भी अनेक चुनावों में इस दायित्व का निर्वाह किया है परंतु समुचित स्टाफ के अभाव में इन्होंने अकेले अपने दम पर जिस प्रकार इस गुरुत्तर दायित्व का निर्वाह किया है वह नामुमकिन को मुमकिन बनाने जैसा है। ऐसे अथक परिश्रमी अधिकारी की जितनी सराहना की जाए कम ही होगी।
** रचना जी चुपचाप शांत रह कर बुद्धिमता के साथ अपना कार्य करती हैं। जहां ये अपनी कार्य दक्षता से मालामाल हैं वहीं प्रबंधकीय गुणों में किसी से कम नहीं हैं। अपने इन्हीं गुणों की वजह से केवल एक लिपिक को साथ ले कर इन्होंने चुनाव कार्य संपन्न किया वह अपने आप में अनुकरणीय और प्रेरक है।
** नामांकन से बहुत पहले चुनाव की शासकीय प्रक्रिया शुरू हो जाती है। अनेक स्तरों पर बैठकों का आयोजन, नामांकन, स्वीप गतिविधियां, प्रशिक्षण, मतदान के साथ - साथ विज्ञापनों का प्रमाणीकरण, मीडिया सेंटर का संचालन और अनेक अन्य प्रशानिक कार्यों में जन संपर्क अधिकारी की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण होती हैं। बहुत दबाव में काम करना होता है। अकेले व्यक्ति के लिए बहुत कठिन होता है यह सब करना। इन्होंने अपने अनुभवों, आत्मविश्वास, टीम भावना, अधिकारियों और मीडिया कर्मियों से तालमेल बना कर जिस प्रकार कार्यों को अंजाम दिया वह काबिले तारीफ है। चुनाव की सभी सूचनाएं समय पर मीडिया को उपलब्ध कराने के महत्वपूर्ण कार्य में सफल रही। इनके द्वारा संचालित मीडिया सेंटर की प्रशंसा चुनाव पर्यवेक्षकों ने भी की।
** इनके द्वारा अकेले रहते हुए किए गए कार्यों के बारे में मैं इसलिए कह पा रहा हूं कि इन्होंने मेरे साथ कार्य किया है और इनके व्यवहार, कार्यशैली और प्रबंधकीय क्षमता को मुझे नजदीक से देखने का मौका मिला है। बेदह सुलझी हुई विचारों की श्रम की प्रतिमूर्ति कहूं तो अतिशयोक्ति नहीं होगी।
** ये पाली, कोटा, बूंदी आदि जिलों में कार्य करते हुए इस बार कोटा में दूसरी बार चुनाव करवा रही हैं। पूर्व में संपन्न कराए गए चुनावों में मतगणना के समय पत्रकार हितों के लिए इन्हें झूझते हुए स्वयं पत्रकारों ने इनकी प्रशंसा की थी। पत्रकार भी इनकी कार्यशैली के कायल है। अब चुनाव की मतवपूर्ण प्रक्रिया मतगणना में भी ये पूर्ण दक्षता के साथ जुटी हैं।
** जनसंपर्क विभाग का पूर्व अधिकारी होने और जागरूक नागरिक होने के नाते मुझे ही नहीं वरन सभी मीडिया कर्मियों को इन पर नाज़ हैं। इनको कई बार उत्कृष्ठ सेवाओं के लिए प्रशानिक स्तर से सम्मानित किया जा चुका है।
 

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like